Practice Questions with Answers - Multiple Choice Questions

MCQ Questions for Class 9 Hindi Kshitij Chapter 6 प्रेमचंद के फटे जूते

MCQ Questions for Class 9 Hindi Kshitij Chapter 6 प्रेमचंद के फटे जूते

 

Question 1.
हरिशंकर परसाई का जन्म कब और कहाँ हुआ?
(a) 1922 में म.प्र. के होशंगाबाद में
(b) 1922 में इलाहाबाद में
(c) 1932 में पटना में
(d) 1922 में वाराणसी में

Answer

Answer: (a) 1922 में म.प्र. के होशंगाबाद में।


Question 2.
निम्नलिखित में से कौन-सी रचना हरिशंकर परसाई जी की नहीं है?
(a) हॅसते हैं रोते हैं
(b) रानी नागफनी की कहानी
(c) गोदान
(d) भूत के पाँव पीछे

Answer

Answer: (c) गोदान
गोदान मुंशी प्रेमचंद की रचना है।


Question 3.
हरिशंकर परसाई जी का निधन कब हुआ?
(a) 1991 में
(b) 1995 में
(c) 1999 में
(d) 1998 में

Answer

Answer: (b) 1995 में
सन् 1995 में हरिशंकर परसाई जी का निधन हुआ।


Question 4.
‘प्रेमचंद के फटे जूते’ पाठ में लेखक ने प्रेमचंद का कैसा चित्रण किया है?
(a) बनावटी
(b) अतिशयोक्तिपूर्ण चित्रण
(c) व्यंग्य चित्रण
(d) यथार्थ चित्रण

Answer

Answer: (d) यथार्थ चित्रण
इस पाठ में प्रेमचंद जी का यथार्थ चित्रण है।


Question 5.
प्रेमचंद का यह फोटो किसके साथ खिंचा था?
(a) लेखक के
(b) प्रेमचंद के मित्र के
(c) उनकी पत्नी के
(d) जयशंकर प्रसाद के

Answer

Answer: (c) उनकी पत्नी के
प्रेमचंद ने यह फोटो अपनी पत्नी के साथ खिंचवाया था।


Question 6.
लेखक ने इस पाठ में भक्ति काल के किस कवि का वर्णन किया है।
(a) सूरदास
(b) कुंभन दास
(c) रैदास
(d) कबीरदास

Answer

Answer: (b) कुंभन दास
कुभनदास जी का वर्णन किया है।


Question 7.
‘नेम’ शब्द का तत्सम शब्द क्या है?
(a) नाम
(b) नया
(c) नियम
(d) नियामत

Answer

Answer: (c) नियम
‘नेम’ का तत्सम ‘नियम’ है।


Question 8.
‘उपहास’ शब्द में उपसर्ग बताइए?
(a) उत्
(b) उप
(c) हास्य
(d) हास

Answer

Answer: (b) उप
उपहास में ‘उप’ उपसर्ग है।


Question 9.
हरिशंकर परसाई मूलतः ……………… हैं। सही विकल्प से रिक्त स्थान से पूर्ति कीजिए।
(a) उपन्यासकार
(b) निबन्धकार
(c) व्यंग्यकार
(थ) कहानीकार

Answer

Answer: (c) व्यंग्यकार
हरिशकर परसाई एक व्यंग्यकार हैं।


Question 10.
प्रेमचन्द कैसे साहित्यकार हैं?
(a) आदर्शवादी
(b) यथार्थवादी
(c) प्रयोगवादी
(d) प्रगतिवादी

Answer

Answer: (b) यथार्थवादी
प्रेमचंद यथार्थवादी साहित्यकार थे।